Breaking News

loading...

NAVRATRI 2019 : माता के नवरात्रों में मनचाहा वरदान पाने के लिए 9 दिन तक लगाएं उनके मनपसंद पकवानो को भोग !!

नवरात्रि में देवी को हर दिन एक विशेष प्रकार का भोग लगाया जाता है। 


पहले दिन से लेकर अंतिम दिन तक देवी को ये विशेष भोग अर्पित करने और बाद में इसे गरीबों में दान करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं। 


नवरात्रि का पहला दिन मां शैलपुत्री का होता है पहले दिन घी का भोग लगाएं और दान करें इससे रोगी को कष्टों से मुक्ति मिलती है और बीमारी दूर होती है। 


दूसरा दिन मां ब्रह्मचारिणी का होता है माता को शक्कर का भोग लगाएं और उसका दान करें इससे आयु लंबी होती है। 


तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है मां को दूध चढ़ाएं और इसका दान करें ऐसा करने से सभी तरह के दु:खों से मुक्ति मिलती है। 


चौथे दिन मां कुष्मांडा की अराधना होती है माता को मालपुए का भोग लगाएं और दान करें इससे सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति व सुख की प्राप्ति होती है। 


पांचवें दिन मां स्कंदमाता का है मां को केले व शहद का भोग लगाएं व दान करें इससे परिवार में सुख-शांति रहेगी और शहद के भोग से धन प्राप्ति के योग बनते हैं। 


छठे दिन मां कात्यानी की पूजा की जाती है षष्ठी तिथि के दिन प्रसाद में मधु यानि शहद का प्रयोग करना चाहिए इसके प्रभाव से साधक सुंदर रूप प्राप्त करता है। 


सातवां दिन मां कालरात्रि को पूजा जाता है मां को गुड़ की चीजों का भोग लगाएं और दान भी करें इससे गरीबी दूर होती है। 


अष्टमी के दिन महागौरी यानि मां दुर्गा को समर्पित है माता को नारियल का भोग लगाएं और दान करें इससे सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। 


आखिरी यानि नवमी पर सिद्धदात्रि की पूजा की जाती है मां को विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाएं और फिर उसे गरीबों को दान करें इससे जीवन में हर सुख-शांति मिलती है। 

No comments