Breaking News

loading...

भारत में कोरोना वायरस से केवल बुजुर्ग पुरुषो की मौत का क्या रहस्य है ?

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार नोबल कोरोना वायरस के कारण भारत में अब तक कम से कम  11  लोगों की मौत हुई है। 

कोरोना वायरस के कहर से इटली में एक ...

पहली मौत 12 मार्च को कर्नाटक के कालबुर्गी   शहर से हुई थी जहां 76  वर्षीय व्यक्ति की मौत उच्च रक्तचाप अस्थमा और मधुमेह के कारण हुई थी और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार व्यक्ति का   कोविड 19  के लिए सकारात्मक परीक्षण भी किया इसी तरह  देश में दूसरी मौत एक महिला की थी जो 13 मार्च को दिल्ली में हुई थी उनकी मौत भी कॉमेडीटी की स्थिति के कारण हुई  कोमेडिटी उस स्थिति को कहते हैं जब व्यक्ति एक से ज्यादा बीमारियों से पीड़ित हो। 

बुजुर्गों को आसानी से शिकार बना रहा ...

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार महिला 68  साल की थी और मधुमेह उच्च रक्तचाप से पीड़ित थी वह अपने बेटे के संपर्क में आई थी जो 5 फरवरी से यात्रा कर चुका था और 23 फरवरी को आया  था महिला एक पुरुष यानी की   बेटे से संक्रमित हुई थी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से एक और दुर्घटना हुई थी जिसमें 22 मार्च को पटना में गुर्दे की समस्या वाले एक मरीज की मौत हो गई थी मुंगेर जिले से संबंधित व्यक्ति की मौत हुई थी। 

WHO declares corona virus epidemic

महाराष्ट्र में 1 हफ्ते के भीतर कम से कम 4 व्यक्तियों की मृत्यु हो गई सभी रोग ग्रस्त व्यक्ति जिनमें से 2 की उम्र 63 वर्ष और एक की उम्र 65 वर्ष थी एक अन्य व्यक्ति भी 60 के दशक में था जिन लोगों की जान चली गई उनमें रक्तचाप मधुमेह और हृदय  की समस्याओं जैसे  अन्य  स्वास्थ्य  जटिलताएं भी थी पंजाब में 72 साल   एक व्यक्ति की मौत हो गई  सोमवार को कोलकाता के स्पेस 55 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई वह 50 के दशक में था हाल ही में अमेरिका से लौटे 69 वर्ष की व्यक्ति की भी सोमवार को मौत हो गई। 

देश में कोरोना से 10वीं मौत, 500 के करीब ...


पश्चिम बंगाल में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई जो 57 वर्ष का था आश्चर्य रूप से  यह भी एक पुरुष था  भारत में सभी  मौतों में एक सामान्य बात है कि उनमें सबसे ज्यादा पुरुष थे जो 50 या 60 साल की थी यह लगभग सभी मृतक एक ज्यादा बीमारी से पीड़ित थी और जो लोगों की मौत हुई सभी की तुलना में  केवल  बिहार में मरने वाले एक व्यक्ति जवान था। 

mumbai kasturba hospital: Coronavirus Patient Dies In Mumbai's ...

एक समान  डेटा  चीन से प्राप्त हुआ था जहाँ नावेल कोरोना वायरस का प्रकोप पहली बार बताया गया डॉ नदीम गुलेरिया निदेशक अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली ने पहले भी बताया था कि चिकित्सा समुदाय ने अब तक जिन आंकड़ों का अध्ययन किया गया है उनमें पाया गया है कि पुरुषों में संक्रमण होने का खतरा महिलाओं के बजाय अधिक होता है। 

coronavirus lockdown in delhi: कोरोना वायरस ...


हैरानी की बात तो यह है कि भारत में भी ऐसा ही है एक को छोड़कर सभी पुरुष हैं गुलेरिया ने सुझाव दिया है कि इस निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए इसी तरह की आवश्यकता है डॉक्टर्स का कहना है कि बुजुर्ग लोगों में मधुमेह   गुर्दे की बीमारी है जैसे कॉमेडीटी होने की आशंका अधिक होती है जो शरीर की संक्रामक बीमारी से लड़ने की क्षमता को कमजोर करते हैं इसके अलावा उनमें से कई अलग  में रहते हैं और एक सही जानकारी तक पहुंच नहीं रखते हैं क्या करना है और क्या नहीं करना है उनको इस बारे में कोई जानकारी नहीं होती उन्होंने सुझाव दिया कि बुजुर्ग  लोगों को अपने वार्षिक  चेकअप के लिए डॉक्टर के संपर्क में रहना चाहिए।



इस खबर से सबंधित सवालों के लिए कमेंट करके बताये और ऐसी खबरे पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें - धन्यवाद

No comments