Breaking News

loading...

आतंकवाद विरोधी दिवस 2020:आखिर 21 मई को आतंकवादी दिवस क्यों मनाया जाता है ,यहां जाने इसकी वजह

देश में 21 मई यानी गुरुवार को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जाएगा। 

21 मई को पूरे राज्य में मनाया जाएगा ...

इस बार यह दिवस कोरोना वायरस महामारी के बीच मनाया जा रहा है हर साल 21 मई को मनाए जाने वाले आतंकवाद विरोधी दिवस पर युवाओं सहित समाज के अन्य वर्गों को आतंकवाद विरोधी  शपथ  दिलाई जाती है केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर सावधानी के साथ आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने के निर्देश दिए हैं। 

Quiz About Memorial: भारत मैं महापुरुषों के ...

 हर साल मनाए जाने वाले  आतंकवाद विरोधी दिवस को मनाने का उद्देश्य युवाओं को आतंकवाद और हिंसा के   से दूर रखना ,शांति और मानवता का संदेश फैलाना ,लोगों को जागरुक करना ,एकता को बढ़ावा देना, युवाओं में देशभक्ति जगाना और आम लोगों की पीड़ा को उजागर करना है। 

Anti Terrorism Day Will Celebrate On May 21 In India, History Of ...

21 मई 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या कर गई थी उनकी हत्या के बाद 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस के तौर पर मनाने का फैसला किया गया था राजीव गांधी जिस समय रैली को संबोधित कर रहे थे उसी दौरान एक महिला अपने शरीर पर विस्फोटक लगाकर आई। 

Gonda: An oath given on Anti-Terrorism Day - गोंडा ...

राजीव गांधी के पैर छूने के लिए जैसे ही  झुकी  तेज धमाका हुआ और इसमें राजीव गांधी समेत 25 लोगों की मौत हो गई मानव बम बनकर इस महिला का संबंध आतंकवादी संगठन एलटीटीई से था आतंकवाद विरोध दिवस के मौके पर वाद विवाद ,लेखन ,चित्रकला समेत विभिन्न आतंकवाद विरोधी कार्यक्रम किए जाते हैं। 

Anti terrorism day Rajiv Gandhi death anniversary celebration

इस खबर से सबंधित सवालों के लिए कमेंट करके बताये और ऐसी खबरे पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें - धन्यवाद

No comments