Breaking News

loading...

पिता को घर पहुंचाने के लिए बेटी ने साईकिल से से तय किया 1200 किलोमीटर का सफर ,अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी ने कही तारीफ में इतनी बड़ी बात

 कोरोना महामारी  की वजह से पूरे देश में  लॉक डाउन के बीच फंसे हुए प्रवासी मजदूर अपने घर जाने के लिए अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं। 

Akhilesh Yadav will help girl who brought her father from ...


इस वक्त 15 साल की ज्योति कुमारी के लोग काफी जम कर तारीफ कर रहे हैं  हर तरफ उसकी मिसाल दी जा रही है कई बड़ी हस्तियों द्वारा उनकी तारीफ करने के होने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी  इन्वान्का  ट्रंप भी उनकी मुरीद हो गई और ट्विटर उनकी तारीफ की है। 

लॉकडाउन: गुरुग्राम से दरभंगा तक ...


15 साल की ज्योति कुमारी पिता को अपनी 7 दिनों में 12 किलोमीटर से अधिक दूरी कर अपने गांव ले गई धीरज और प्रेम की खूबसूरत एहसास ने भारतीय लोगों और साइकिल फेडरेशन की कल्पना को दर्शाया है दरअसल  कोरोना  संकट और  लॉक डाउन के इस वक्त में देशभर के प्रवासी मजदूर अपने गांव की तरफ लौटने में बेबस है जैसे जैसे  -तैसे  हर कोई अपने गांव पहुंचना चाह रहा है ऐसे में ज्योति ने दिए कैसे साहसी कदम उठाया जिसे देख सुनकर हर कोई  हतप्रभ  है। 

Lockdown में बीमार पिता को गुरुग्राम से ...


ज्योति के पिता मोहन पासवान कुछ महीने पहले हादसे में जख्मी हो गए थे इसलिए वह अपने दम पर  घर पहुंचने में असमर्थ थे लॉक डाउन में पिता के फंसे होने से बेटी ज्योति परेशान हो गई और एक दिन खुद ही साइकिल उठाकर पिता को पीछे बिठाकर हजारों किलोमीटर के कठिन सफर पर निकल पड़ी। 

15 साल की लड़की साइकिल पर पिता को ...


ज्योति ने बताया कि उसने पापा को साइकिल पर बिठाकर 10 मई को  गुरुग्राम से चलना शुरू किया और 16 मई की शाम घर   दरभंगा पहुंच गई रास्ते में से काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा नहीं लोगों ने उसकी मदद की जो 30 से 7 दिनों में अपने पिता की साइकिल के पीछे बिठाकर 1200 किलोमीटर का रास्ता नाप दिया ज्योति के समर्पण और प्रेम का भी और हर किसी ने उनकी अपने अपने तरीके से तारीफ की। 

Ivanka Trump on Bihar girl cycling 1200 km with father says This ...

इस खबर से सबंधित सवालों के लिए कमेंट करके बताये और ऐसी खबरे पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें - धन्यवाद

No comments