Breaking News

loading...

दौड़ते वक्त करी यह गलतिया तो घिस सकते है घुटने

रनिंग या जॉग्गिंग बिना किसी इक्विपमेंट के की जाने वाली सबसे आसान और असरकारक एक्सरसाइज है, जिसके लिए एक अच्छे शूज के सिवा किसी और चीज की जरुरत नहीं पड़ती,नियमित रूप से रनिंग करने वालो की मांसपेशियों और हड्डियों मजबूत होती है,साथ ही हृदय के स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है,सुबह के वक़्त की गयी रनिंग ज्यादा फायदेमंद होती है,साथ ही मानसिक स्वास्थ्य भी ठीक रहता है।


रनिंग करने के कई फायदे हैं जिसमे वजन कंट्रोल रखना,, ब्लड शुगर कंट्रोल रखने के साथ ही फेफड़ों के स्वास्थ्य में सुधार शामिल है ,जानकारों के मुताबिक आउटडोर में रनिंग फायदेमंद होती है परन्तु ट्रेडमिल और स्पॉट रनिंग के जरिये भी रनिंग के फायदे ले सकते है।


परन्तु रनिंग करते वक़्त लोग कई तरह की गलतियां कर जाते है ,जिसका खामियाजा घुटनों को भुगतना पड़ता है,जानते है रनिंग से जुड़ी कुछ गलतियों जिनसे बचना चाहिए जिससे जॉइंट मजबूत और हेल्दी रह सकें।


स्पॉट रनिंग जिसमे एक ही जगह पर खड़े होकर दौड़ा जाता है ,जो अक्सर घरों में ही की जाती है ,मगर इस रनिंग ट्रक या फर्श पक्की होती है, जिसके चलते घुटनों को चोट पहुंच सकती है साथ ही जोड़ों में दर्द की समस्या हो सकती है।



कई नंगे पांव या चप्पल पहन कर या फिर सस्ते शूज पहनकर रनिंग करते हैं जो की गलत है क्योकि रनिंग करते वक़्त देखना चाहिए रनिंग सरफेस कैसा है यदि यह सरफेस कठोर है तो इसके लिए अच्छे से ब्रांडेड शूज की जरुरत रहती है जिससे घुटनों को चोट नहीं लगती और मांसपेशियों में खिंचाव ना आए।



एक्सपर्ट स्पॉट रनिंग को उचित नहीं मानते क्योंकि बंद कमरे में रनिंग करने से प्रकृति के नजरो से वंचित रह जाते है इसके साथ ही स्पॉट रनिंग कारन से खुले मैदानों वाली सतह नहीं मिल पाती है जिसके चलते फायदे की जगह नुकसान होता है,और घुटने घिस सकते हैं।



Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Bollywood Remind इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें. इस खबर से सबंधित सवालों के लिए कमेंट करके बताये और ऐसी खबरे पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें - धन्यवाद

No comments